Friday, January 1, 2010

सुरेन्द्र शर्मा (हास्य कवि)



3 comments:

महेन्द्र मिश्र said...

रोचक प्रस्तुति...आभार . नववर्ष की हार्दिक शुभकामना ..

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर

Udan Tashtari said...

मजा आ गया.