Saturday, October 25, 2008

युवती से गुलाब लेना है तो हेलमेट पहनें




भुवनेश्वर। यह आपको तय करना है कि आप खूबसूरत लड़की से गुलाब का फूल लेंगे या फिर कलाई पर राखी बंधवाएंगे। मामला नियम के पालन करने और नहीं करने का है।
गुलाब लेने की आपकी ख्वाहिश दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट पहनने से पूरी हो जाएगी। वरना राखी बंधवाने को तैयार रहें। सुरक्षा के प्रति चिंतित उड़ीसा पुलिस ने हेलमेट पहनने के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए यह नायाब मनोवैज्ञानिक तरीका अपनाया है। भुवनेश्वर यातायात पुलिस के इस अभियान में इंजीनियरिंग कॉलेजों की छात्राएं मदद कर रही हैं।
हेलमेट पहनने वालों को ये छात्राएं रोमांस का प्रतीक गुलाब भेंट कर रही है। इसके उलट बिना हेलमेट पहने दुपहिया चलाते पकड़े जाने वालों को इन छात्राओं से राखी बंधवानी पड़ रही है।
राजमहल स्क्वायर में राखी बंधवाने को मजबूर रबिंद्र मोहंती ने कहा कि हेलमेट न पहनना कितना असुरक्षित है यह समझ आ गई। बिना हेलमेट पहने वो अब स्कूटर नहीं चलाएंगे। दूसरी ओर 20 वर्षीय कॉलेज छात्र अभिमन्यु मोहापात्रा एक खूबसूरत युवती से गुलाब पाकर बेहद खुश और रोमांचित हैं। पुलिस आयुक्त बी. के. शर्मा ने बताया कि सूबे में प्रतिदिन सड़क दुर्घटनाओं में तकरीबन दस लोग मारे जाते हैं। जुर्माना लगाने के बावजूद हेलमेट पहनने के प्रति लोगों को जागरूककरना मुश्किल हो रहा था। ऐसे में हमने यह नया रास्ता अपनाया।

7 comments:

dr. ashok priyaranjan said...

िववेकजी,
एेसे में हेलमेट लगाना ही बेहतर है । कम से कम गुलाब तो िमलेगा । अच्छी और रोचक जानकारी दी है आपने ।

http://www.ashokvichar.blogspot.com

Udan Tashtari said...

बेहतरीन तरीका!!!

आपको एवं आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं.

panchayatnama said...

पुलिस ऐसा रास्ता अख्तियार कर रही है, जान कर आश्चर्य हुआ.

आपको एवं आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं.

अनूप शुक्ल said...

रोचक! मजेदार!

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

बहुत गज़ब की सोच है भाई. मगर हेलमेट पर इतना ज़ोर देने के बजाय थोडा ज़ोर दंगा रोकने पर भी लगाएं तो ज़्यादा जानें बचेंगी.

सुमित प्रताप सिंह said...

सादर ब्लॉगस्ते,


दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं। आपने मेरे ब्लॉग पर पधारने का कष्ट किया व मेरी रचना 'एक पत्र आतंकियों के नाम' पर अपनी अमूल्य टिप्पणी दी। अब आपको फिर से निमंत्रित कर रहा हूँ। कृपया पधारें व 'एक पत्र राज ठाकरे के नाम' पर अपनी टिप्पणी के रूप में अपने विचार प्रस्तुत करें। आपकी प्रतीक्षा में पलकें बिछाए...

आपका ब्लॉगर मित्र

seema gupta said...

दीप मल्लिका दीपावली - आपके परिवारजनों, मित्रों, स्नेहीजनों व शुभ चिंतकों के लिये सुख, समृद्धि, शांति व धन-वैभव दायक हो॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ दीपावली एवं नव वर्ष की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं