Wednesday, September 10, 2008

घूसखोरों से राहत बस एक फोन कॉल दूर

नई दिल्ली : दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में शिष्टाचार बने भ्रष्टाचार से आम आदमी को मुक्त कराने की पहल तो शुरू हो गई है, लेकिन अभी उसके ठोस नतीजे आने बाकी हैं। देश की सबसे भरोसेमंद माने वाली जांच एजंसी सीबीआई की ओर से आजकल आम आदमी के मोबाइल पर एक मेसिज सर्कुलेट किया जा रहा है। इस मेसिज का मजमूं कुछ इस तरह है, 'अगर कोई केंद्रीय / दिल्ली सरकार / पीएसयू / बैंक आदि का कर्मचारी आपसे रिश्वत की मांग करें, तो आप सीधे एसपी, सीबीआई से 9968081216 / 17 / 18 या 24361535 / 3541 / 2494 पर शिकायत करें। ' सीबीआई की गुजारिश पर मोबाइल सर्विस प्रोवाइडर ने इस तरह के मेसिज की डिलिवरी शुरू की है। यह पहल सीबाआई की करप्शन के खिलाफ शुरू की गई राष्ट्रव्यापी मुहिम का हिस्सा है। सीबीआई के मुताबिक, यह दिल्ली में फैले करप्शन को उखाड़ फेंकने की कोशिश है, जिसकी पहल सीबीआई की ऐंटी करप्शन ब्रांच की ओर से की गई है। इस सर्विस पर आप अपनी शिकायत चौबीसों घंटे दर्ज करा सकते हैं। अधिकारियों के मुताबिक, शिकायत मिलने पर जांच की कार्रवाई शुरू की जाएगी और फिर सच का पता लगाया जाएगा। भ्रष्टाचार से तंग आ चुकी जनता के लिए यह मेसिज किसी संजीवनी से कम नहीं है। लेकिन जब लोगों ने इस सर्विस की असलियत जानने के लिए इन नंबरों पर कॉल करना शुरू किया तो ज्यादातर को निराशा हाथ लगी। इनमें से एक भी नंबर पर बात नहीं हो पा रही थी। कुछ नंबर्स हमेशा बिजी बता रहे हैं, तो कुछ पर घंटी तो जा रही थी, लेकिन हलो की आवाज सुनने के लिए लोग तरसते ही रह गए। सीबीआई का कहना है कि यह अभी नई पहल है, तो इसे सुचारू रूप से चलने में कुछ वक्त लगेगा। वैसे, जो भी हो आजादी के 61 साल बाद आम आदमी को करप्शन से मुक्त करने की इस पहल से दिल्लीवासियों को बहुत राहत की उम्मीद है। इस बारे में सीबीआई के पूर्व निदेशक जोगिंदर सिंह का कहना है कि यह एक बढ़िया पहल है, जिससे लोगों के बीच सीबीआई की सकारात्मक छवि बनेगी। अब आम आदमी रिश्वतखोरों के खिलाफ आसानी से शिकायत कर सकेगा। नंबर्स का बिजी होना स्वाभाविक हैं, क्योंकि करप्शन से आजिज आ चुके लाखों लोग कंपलेन करने में लगे हुए होंगे। वैसे सीबीआई की इस तरह की मुहिम महाराष्ट्र, कर्नाटक और तमिलनाडु में पहले ही चल रही है।

2 comments:

Ranjan said...

message तो हमे भी मिला था.. वैसे ये बहुत अच्छा प्रयास है.. कम से कम market call या sms से बेहतर है.. यदि सरकार जनता से सिधे इस प्रकार संवाद करे यह सहरानीय है..

number busy है कोई गम नहीं.. उम्मीद है जल्द ही और सुधार आयेगा..

Suresh Chiplunkar said...

क्या कहूँ कुछ समझ नहीं आता, अभी भी लोग इस मुगालते में जी लेते हैं कि भारत में भ्रष्टाचार खत्म होगा या कम होगा… सच में या तो लोग भोले हैं या मूर्ख हैं…